भारतीय परिधानिका



तूर्यनाद'16

भारत देश विभिन्न संस्कृतियों से परिपूर्ण एवं सौंदर्य-समृद्ध देश है। यहाँ की भिन्न-भिन्न संस्कृतियाँ ही हमारे देश की पहचान हैं। इन सब संस्कृतियों एवं उनके सौन्दर्य को प्रदर्शित करने हेतु स्वदेशी फैशन शो ‘परिधानिका’ का आयोजन किया जाता है। परिधानिका प्रतियोगिता दो चरणों में संपन्न हुई एवं इस वर्ष परिधानिका का विषय “भारतीय कबीलाई व प्रादेशिक संस्कृति रखा गया”। प्रथम चरण में प्रतिभागी समूहों को भारतीय परिधान पहन कर अपने छायाचित्र अणुडाक, व्हाट्स-एप्प अथवा फेसबुक द्वारा समिति को भेजने थे। प्रथम चरण में 11 समूहों को अंतिम (द्वितीय) चरण के लिए चयनित किया गया। द्वितीय चरण में प्रतिभागियों के समूह को किसी एक कबीले या किसी एक प्रदेश की संस्कृति को दर्शाते हुए वस्त्र पहन कर रैंप पर पदचाल एवं समूह रचना करनी थी। द्वितीय चरण डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन सभागार, मौलाना आज़ाद राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, भोपाल में आयोजित किया था। प्रतियोगिता की कुल ईनामी राशि ₹ 20000 थी।

तूर्यनाद'15

भारत ‘अनेकता में एकता’ का देश है। भारत माँ ने अपनी गोद में विभिन्न संस्कृतियों को पाला पोसा है। इन सभी संस्कृतियों की अलग अलग वेशभूषायें, खान पान, भाषायें सभी आकर्षण का केंद्र है। इन्हीं विविधताओं से हमारे विद्यार्थियों व दर्शकों को परिचित करने के उद्देश्य से तूर्यनाद – 15 के अंतर्गत स्वदेशी फैशन शो ‘परिधानिका’ का आयोजन किया गया। यह प्रतियोगिता तीन चरणों में आयोजित की गई। भारत के सभी महाविद्यालयीन छात्र-छात्राएँ समूह में इस प्रतियोगिता में भाग ले सकते थे।प्रतियोगिता का प्रथम चरण ऑनलाइन आयोजित किया गया था। इस चरण में प्रतिभागियों द्वारा विभिन्न संस्कृतियों की वेशभूषायें धारण की हुई प्रस्तुतियाँ वीडियो के रूप में भेजी गयी, जिनमें से 11 दलों का चुनाव अगले चरण हेतु किया गया। द्वितीय चरण में इन दलों द्वारा अपनी प्रस्तुति संस्थान प्रांगण में हुई, जहाँ से 9 दलों का चयन किया गया। प्रतियोगिता के अंतिम चरण में चयनित 9 दलों द्वारा अपनी प्रस्तुति में लखनवी तहज़ीब, राजपूताना शौर्य, मराठी संस्कृति, बंगाल की दुर्गा पूजा, दक्षिण भारत की सादगी व विविधता तथा भारत के उत्तर-पूर्व की विविध छटाएँ बहुत ही मनोहारी ढंग से प्रदर्शित की गई। अंत में अपनी प्रस्तुति के आधार पर शीर्ष 3 दलों को विजेता घोषित किया गया। अंतिम चरण डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन सभागार, मौलाना आजाद राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, भोपाल में आयोजित किया था। प्रतियोगिता की कुल पुरस्कार राशि ₹18000 थी।





पता

राजभाषा कार्यान्वयन समिति,

मौलाना आज़ाद राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान,

भोपाल

फ़ोन:

+91 9926914484 आकाश जायसवाल

+91 7772970731 निष्ठा अनुश्री

अणुडाक:
tooryanaad@gmail.com

राजभाषा कार्यान्वयन समिति 2017